Home News CAIT Said- Delhi’s Markets Will Not Be Closed, Market Associations Will Decide...

CAIT Said- Delhi’s Markets Will Not Be Closed, Market Associations Will Decide For Whether Shops Will Open Or Remain Closed ANN | कैट ने कहा

0
0

कैट ने कहा कि अब मार्केट एसोसिएशन अपने बाजार की स्थिति को देखते हुए निर्णय लें कि दुकान खोलनी है या बंद रखनी है या फिर और ऑड इवन नियम का पालन करना है.

दिल्लीः राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में अब तमाम बाजारों की मार्केट एसोसिएशन यह तय करेंगी कि उन्हें अपनी मार्केट खुली रखनी है, बंद रखनी है या फिर ऑड-ईवन को अपनाते हुए दुकानों को खोलना है. यह निर्णय आज सीएआईटी (कैट) की तरफ से लिया गया है.

कैट के महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल ने कहा कि दो दिन पहले हमारे सर्वे में लगभग 88 फीसदी मार्केट एसोसिएशन ने इस बात पर सहमति जताई थी कि कोरोना के प्रकोप को देखते हुए फिलहाल बाजारों को बंद कर देना चाहिए. लेकिन आज हमने जब वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से तमाम मार्केट एसोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ इस विषय पर चर्चा की. साथ में यह भी बात की कि देश के प्रधानमंत्री और गृहमंत्री खुद दिल्ली की स्थिति पर नजर रख रहे हैं और दिल्ली की स्थिति को सुधारने के लिए तमाम तरह के प्रयास कर रहे हैं. ऐसे में फिलहाल के लिए बाजारों को बंद करने का निर्णय उचित नहीं रहेगा. इस विषय पर सभी ने अपनी सहमति दी.

हालांकि कुछ मार्केट एसोसिएशन की अलग-अलग राय थी, जैसे उसने ऑड-ईवन के तहत दुकान खोलने का सुझाव दिया गया. कुछ ने कहा कि बाजारों को थोड़े समय के लिए बंद कर देना चाहिए. इसके बाद कैट की तरफ से यह कहा गया है कि अब मार्केट एसोसिएशन अपने बाजार की स्थिति को देखते हुए निर्णय लें कि दुकान खोलनी है या बंद रखनी है या फिर और ऑड-ईवन नियम का पालन करना है.

सरोजिनी नगर मिनी मार्किट 2 दिन रहेगी बंद
एबीपी न्यूज ने जब रविवार को सरोजनी नगर मार्केट का जायजा लिया तो पाया कि रविवार को जहां सरोजनी नगर के मिनी मार्केट या फिर मेन मार्केट दोनों ही जगह पर पैर रखने की जगह नहीं होती थी, वही लगभग सुना पड़ा है. गिनती के लोग हैं, जो मार्केट में खरीदारी के लिए यहां आए हुए हैं. दुकाने खाली पड़ी हुई है. इतना ही नहीं कुछ दुकानों के शटर डाउन भी है. वजह कहीं न कहीं कोरोना का खौफ है, जिसको देखते हुए लोग बाजारों में कम निकल रहे हैं और दुकानदार भी शायद इसी वजह से पूरी तरह से दुकानों को नहीं खोल रहे हैं.

इस विषय पर हम सरोजनी नगर मिनी मार्केट के अध्यक्ष अशोक रंधावा से बात की. अशोक रंधावा का कहना है कि लॉक डाउन के बाद जब से अनलॉक फेस वन शुरू हुआ है, हमारी मार्केट हर दिन खुल रही है. लेकिन ग्राहक न के बराबर आ रहे हैं. जिस तरह से दिल्ली में कोरोना के केस लगातार बढ़ते जा रहे हैं और ऐसा सुनने में आ रहा है कि दिल्ली की जो मेडिकल सेवा है, वह सुचारू ढंग से काम नहीं कर रही है. इ

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने यह कहा है कि आने वाले दिनों में जुलाई के महीने में कोरोना मरीजों की संख्या साढे पांच लाख से ज्यादा की होगी. इसकी वजह से केवल आम लोगों में ही नहीं बल्कि व्यापारी वर्ग में भी काफी दहशत फैली है. इसे देखते हुए सरोजनी नगर मिनी मार्केट ने आने वाले 2 दिन यानी कि सोमवार और मंगलवार को बंद का निर्णय लिया है. मंगलवार की शाम को हम लोग आपस में बैठकर चर्चा करेंगे कि मार्केट को खोलना है या नहीं या फिर ऑड-ईवन नियम के तहत दुकानों को खोलना है.

व्यापारियों ने ग्राहकों से की अपील- कोरोना से डरे नहीं
सरोजनी नगर मिनी मार्केट से ही जुड़ी हुई सरोजनी नगर मेन मार्केट का हाल भी रविवार को लगभग वैसा ही दिखा जैसा कि सरोजिनी नगर मिनी मार्केट में था. दुकानें खुली थी, लेकिन ग्राहकों की संख्या गिनती मात्र की थी. जहां कभी रविवार के दिन पैर रखने की जगह नहीं होती थी, वही आज का नजारा लगभग सुनसान था.

यहां के व्यापारियों से बात करने पर उन्होंने कहा कि हम लोगों से अपील करते हैं कि वे पहले की तरह बाजारों में आए. क्योंकि दुकानदार हर तरह का एहतियात बरत रहे हैं. सोशल डिस्टेंसिंग के लिए भी तैयारी की गई है. सैनिटाइजर की व्यवस्था भी रखी गई है. ऐसे में लोग कोरोना के खौफ से बाहर निकलते हुए एहतियात के साथ मार्केट में आएं और खरीदारी करें.  यहां के दुकानदारों का यह भी कहना है कि जब तक मेट्रो सेवा शुरू नहीं हो जाती, तब तक मार्केट का हाल लगभग ऐसा ही रहेगा क्योंकि एक बड़ा वर्ग ऐसा भी है जो दिल्ली मेट्रो के माध्यम से मार्केट में आता है. अभी मेट्रो सेवा बंद है, इसलिए भी लोग मार्केट में नहीं आ रहे हैं. हमारी मार्केट खुली रहेगी.

Coronavirus: कल दिल्ली की स्थिति की होगी समीक्षा, गृहमंत्री अमित शाह ने सभी दलों की बैठक बुलाई


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here