Home News Coronavirus is less likely to remain active on surface in hot, dry...

Coronavirus is less likely to remain active on surface in hot, dry weather says study

1
0

गर्म और शुष्क मौसम में सतह पर ज्यादा देर तक सक्रिय नहीं रह पाता Coronavirus, नए अध्ययन में हुआ खुलासा

नए अध्ययन में खुलासा हुआ है कि गर्म मौसम में ज्यादा देर तक सक्रिय नहीं रहता कोरोनावायरस.

नई दिल्ली:

मुंबई के वैज्ञानिकों ने एक अध्ययन में यह पाया है कि गर्म और शुष्क मौसम में सतह पर कोरोनावायरस (Coronavirus) के सक्रिय रहने की गुंजाइश कम हो जाती है. इस जानकारी से दुनिया भर में सार्वजनिक स्थानों को संक्रमण मुक्त करने के बेहतर दिशानिर्देश तैयार करने में मदद मिल सकती है. उन्होंने एक ‘कंप्यूटर मॉडल’ का उपयोग कर यह अध्ययन किया. 

‘फिजिक्स ऑफ फ्लूड्स’ जर्नल में प्रकाशित अध्ययन में यह आकलन किया गया कि जब कोविड-19 (COVID-19) का रोगी खांसता या छींकता है, तो संक्रमण के लिये कोरोना वायरस, सार्स-कोवी-2, कितने समय तक (संक्रमण के लिये) अनुकूल स्थिति में रहता है. आईआईटी, मुंबई के रजनीश भारद्वाज और अमित अग्रवाल समेत अध्ययन दल में शामिल अन्य वैज्ञानिकों ने न्यूयॉर्क और सिंगापुर समेत दुनिया के लगभग छह शहरों में संक्रमित रोगियों के खांसने या छींकने से निकलने वाले कणों के विभिन्न सतहों पर सूखने की अवधि पर गौर किया. 

अध्ययन में कहा गया है कि मनुष्य के सिर के एक बाल की मोटाई के आकार के ये कण कोविड-19 के रोगियों के खांसते, छींकते और यहां तक की बोलते समय नाक और मुंह से निकलते हैं. उन्होंने कहा कि विषाणु को बाहर लेकर आने वाले ये कण जब वाष्पित हो जाते हैं तब बचा हुआ विषाणु निष्क्रिय हो जाता है, इस तरह कोविड-19 के सक्रिय रहने की अवधि और उसका संचरण इस बात से सीधे तौर पर प्रभावित होता है कि ये कण कितने समय तक अक्षुण्ण रहते हैं. 

उन्होंने अपने विश्लेषण के आधार पर कहा कि कोविड-19 की वृद्धि दर का थोड़ा बहुत संबंध बाहर के मौसम से भी है. शुष्क मौसम की तुलना में आर्द्र मौसम में वायरस के सक्रिय रहने की संभावना मौटे तौर पर पांच गुणा बढ़ जाती है. शोधकर्ताओं ने कहा कि अधिक नमी वाले स्थानों पर, छोटे कण लंबे समय तक सतहों पर सक्रिय रहे. इससे वायरस के अधिक समय तक सक्रिय रहने का पता चलता है. उन्होंने कहा कि गर्म और शुष्क स्थानों में किसी सतह पर ये कण जल्द ही निष्क्रिय हो गए. 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here