Home News Coronavirus Positive Patient Found In Gorakhpur State Women Asylum Area Sealed

Coronavirus Positive Patient Found In Gorakhpur State Women Asylum Area Sealed

0
0

गोरखपुर: यूपी के कानपुर जिले के बाद अब गोरखपुर के राजकीय महिला शरणालय में भी एक कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि के बाद हड़कंप मच गया है. आनन-फानन में जिला प्रशासन ने इलाके को सील कर दिया है. एहतियात के तौर पर अन्य 63 संवासिनियों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया गया है. वहीं, जिला प्रशासन के साथ स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम की टीम ने 250 मीटर के दायरे को पूरी तरह से सील कर दिया है. पूरे इलाके को सेनिटाइज कराने के साथ लोगों को घरों में रहने के निर्देश दिए गए हैं.

17 साल की संवासिनी निकली कोरोना पॉजिटिव

गोरखपुर शहर के सबसे भीड़भाड़ वाले इलाके घंटाघर के पास दीवान दयाराम लेन में राजकीय महिला शरणालय गृह है. यहां पर 64 संवासिनियों को रखा गया है. यहां पर रखी गई 64 संवासिनियों में 17 साल की एक संवासिनी के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद उसे बीआरडी मेडिकल कॉलेज में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है. 63 अन्य संवासिनियों को सुरक्षित स्थान पर शिफ्ट किया जा रहा है. नगर निगम के सफाई सुपरवाइजर शंभू शरण ने बताया कि सूचना मिलने के बाद ही प्रशासनिक, पुलिस और नगर निगम के अधिकारी और कर्मचारी यहां पर पहुंच गए.

ढाई सौ मीटर के दायरा सील

शरणालय से सटे ढाई सौ मीटर के दायरे को सील करने के साथ में लोगों को घरों में रहने के निर्देश भी दिए गए हैं. सभी 63 संवासिनियों को सुरक्षित स्थान पर भेजा गया है. नगर निगम की ओर से सेनिटाइजेशन का काम पूरा कर दिया गया है. अब इस इलाके को 14 दिन तक सील रखा जाएगा. इसके साथ ही रोजमर्रा की जरूरत के सामानों की आपूर्ति लोगों को घरों में ही की जाएगी. बहुत जरूरी होने पर मास्क लगाकर ही पूरी सावधानी के साथ बाहर निकलने के निर्देश हैं.

 यह भी पढ़ें:

UP: कोरोना काल में पोस्ट ऑफिस में बेचे जा रहे हैं सेनिटाइजर, जल्द होम डिलीवरी भी उपलब्ध कराएगा डाक विभाग

UP: मेरठ में कोरोना वायरस के खात्मे के लिए कराई जा रही अनोखी ‘कोवी कोटिंग’, 3 महीने तक संक्रमण का खतरा नहीं होने का दावा


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here