Home News Delhi: 10-49 Bed Capacity Nursing Homes Declared ‘Covid-19 Health Center’

Delhi: 10-49 Bed Capacity Nursing Homes Declared ‘Covid-19 Health Center’

0
0

दिल्ली में कोरोना से लड़ने के लिए राज्य सरकार ने अहम फैसला लिया है. दिल्ली में 10-49 बिस्तर की क्षमता वाले सभी छोटे एवं मध्यम मल्टीस्पेशलिटी नर्सिंग होम को शनिवार को ‘कोविड-19 नर्सिंग होम’ में बदल दिया गया है. इससे लोगों को अपना इलाज करवाने में दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ेगा.

नई दिल्लीः दिल्ली में कोरोना का संक्रमण बढ़ने के साथ ही इलाज कराने के लिए स्वास्थ्य केंद्रों की मांग भी बढ़ी है. जिसे ध्यान में रखकर दिल्ली सरकार ने 10-49 बिस्तर की क्षमता वाले सभी छोटे एवं मध्यम मल्टीस्पेशलिटी नर्सिंग होम को शनिवार को ‘कोविड-19 नर्सिंग होम’ घोषित कर दिया है. अब दिल्ली में छोटे नर्सिंग होम में भी कोरोना पॉजिटिव को भर्ती कर उनका इलाज किया जाएगा.

आधिकारिक बयान के मुताबिक, कोरोना वायरस के मरीजों के लिए बिस्तरों की संख्या में वृद्धि करने के मद्देनजर यह कदम उठाया गया है. इससे आम जनता को काफी राहत मिलेगा. हालांकि दिल्ली में कई ऐसे कोरोना पॉजिटिव जिन्होंने खुद को होम आईसोलेशन में रखकर अपना सफल इलाज भी किया है.

आदेश के मुताबिक, केवल विशेष तौर पर आंख, कान एवं गले का इलाज करने वाले केंद्रों, डायलिसिस केंद्रों, प्रसव गृहों और आईवीएफ केंद्रों को इससे छूट दी गई है.

इसमें कहा गया ‘छोटे और मध्यम मल्टीस्पेशलिटी नर्सिंग होम (10 से 49 बिस्तर वाले) में कोविड और गैर-कोविड मरीजों के परस्पर एक-दूसरे के सपंर्क में आने से बचने के लिए और कोविड-19 के मरीजों के लिए बिस्तरों की संख्या बढ़ाने के तहत राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के ऐसे सभी नर्सिंग होम को कोविड-19 नर्सिंग होम घोषित किया गया है, जिनकी बिस्तर क्षमता 10-49 है.’

आदेश के मुताबिक, ऐसे सभी नर्सिंग होम को आदेश जारी होने के तीन दिन के अंदर अपने कोविड बिस्तरों को तैयार रखना चाहिए, ऐसा करने में विफल रहने वालों को दिल्ली नर्सिंग होम पंजीकरण के नियमों के उल्लंघन का दोषी माना जाएगा.

इसे भी पढ़ेंः

कोरोना वायरस को लेकर पीएम मोदी ने की समीक्षा बैठक, दिल्ली के लिए इमरजेंसी मीटिंग बुलाने के दिए निर्देश

ABP न्यूज़ की खबर का बड़ा असर, आदित्य ठाकरे ने 6 दिन के बच्चे के इलाज के लिए दिए एक लाख रुपए


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here