Home News Delhi mother son duo make Masks For The Poor for free named...

Delhi mother son duo make Masks For The Poor for free named initiative Pick One Stay Safe

0
0

दिल्ली : मां-बेटे की जोड़ी गरीबों के लिए बना रही मास्क, मुहिम को दिया 'पिक वन, स्टे सेफ' नाम

लक्ष्मी एक दिन में 25 से 40 मास्क बनाती हैं.

खास बातें

  • एक दिन में 25 से 40 मास्क बनाती हैं लक्ष्मी
  • चितरंजन पार्क इलाके में लगाए पांच बॉक्स
  • पेशे से सिनेमैटोग्राफर हैं सौरव दास

नई दिल्ली:

साउथ दिल्ली (Delhi Coronavirus Report) इलाके में मां-बेटे की जोड़ी ने सभी का दिल जीत लिया है. वो गरीबों के लिए मास्क बना रहे हैं और उन्हें मुफ्त में मुहैया करवा रहे हैं. उन्होंने इस पहल को ‘पिक वन, स्टे सेफ’ नाम दिया है. पेशे से सिनेमैटोग्राफर सौरव दास (24) और उनकी मां लक्ष्मी अभी तक दो हजार से ज्यादा मास्क बनाकर बांट चुके हैं. लक्ष्मी स्वयं यह मास्क बनाती हैं. वह गृहणी हैं.

यह भी पढ़ें

सौरव दास कहते हैं, ‘यह कॉटन के कपड़े से बने मास्क हैं. इन्हें धोकर फिर से इस्तेमाल किया जा सकता है. हर दिन मेरी मां 25 से 40 मास्क बनाती हैं और फिर इन्हें बॉक्स में भरकर चितरंजन पार्क इलाके में पांच अलग-अलग जगहों पर रख देते हैं.’ बगैर छुए इन बॉक्स से मास्क निकाला जा सकता है. इसे खुद सौरव ने तैयार किया है. सौरव कहते हैं कि वह ये सुनिश्चित करना चाहते हैं कि गरीब व्यक्ति एक भी रुपये खर्च किए बिना मास्क का इस्तेमाल कर सके. 

सौरव कंस्ट्रक्शन साइट पर काम कर रहे मजदूरों को भी मास्क देते हैं. इस महीने की शुरूआत में साउथ दिल्ली के तुगलकाबाद इलाके में आग लग गई थी. सौरव ने वहां जाकर भी मास्क वितरित किए. लक्ष्मी कहती हैं कि वह खाली वक्त में मास्क बनाती हैं. सौरव के चाचा मास्क बनाने के लिए कपड़ा लाते हैं. आसपास के लोग उनकी इस पहल का स्वागत कर रहे हैं.

चितरंजन पार्क इलाके में सैलून चलाने वाले नवीन चंद्रशील कहते हैं, ‘इस समय मास्क अनिवार्य हो गया है. मेरी दुकान पर आने वाले जो लोग मास्क भूल जाते हैं, मैं उन्हें बॉक्स से मास्क लेने की सलाह देता हूं.’ डिपार्टमेंटल स्टोर के मालिक शंकर मंडल भी दुकान पर बगैर मास्क आए लोगों से बॉक्स से एक मास्क लेने को कहते हैं.

VIDEO: पीपीई किट पहनकर काम करने के घंटे कम किए जाएं : AIIMS नर्सिंग यूनियन

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here