Home News Dr. Sandeep And Dr. Hemangi Postponed Their Marriage To Serve The Corona...

Dr. Sandeep And Dr. Hemangi Postponed Their Marriage To Serve The Corona Patients Now Both Of Them Married ANN

0
0

डॉ संदीप पुराणे और डॉ हेमांगी देवराज की शादी 26 अप्रैल को होनी थी लेकिन दोनों ने अपनी ड्यूटी निभाने का फैसला किया. दोनों मुंबई के बालासाहेब ठाकरे ट्रॉमा सेंटर में कोरोना मरीजों का इलाज कर रहे हैं.

मुंबईः आपने फिल्म ‘तानाजी’ में तानाजी मालुसरे की भूमिका निभानेवाले अभिनेता अजय देवगन का ये डायलॉग तो सुना ही होगा जिसके मुताबिक तानाजी ने स्वराज को बचाने के लिए अपने बेटे रायबा की शादी आगे बढ़ा दी थी. तानाजी के इस शपथ ने मुगलों को हराकर छत्रपति शिवाजी महाराज के स्वराज का केसरिया झंडा कोंढाणा किले पर लहराया था.

कुछ इस तरह की शपथ दो डॉक्टरों ने ली है जो कोविड वॉरियर बनकर अस्पताल में कोरोना मरीज़ों का इलाज कर रहे हैं. नासिक के संदीप पुराणे और जलगांव की डॉ हेमांगी देवराज ने अपनी शादी की तारीख आगे बढ़ाई और कोरोना से दो-दो हाथ करने के लिए दिन रात मुंबई के बालासाहेब ठाकरे ट्रॉमा सेंटर में कोरोना मरीजों का इलाज करने में खुद को झोंक दिया.

डॉ. हेमांगी देवराज ने एबीपी न्यूज़ से कहा, ”कोरोना का संकंट जब खड़ा हुआ तो हमें पता नहीं था कि ये लड़ाई इतनी लंबी चलेगी. हमारी शादी की तारीख़ 26 अप्रैल थी हमने, हमारे घरवालों ने सारी तैयारी कर रखी थी. लेकिन शादी की तारीख़ जब नज़दीक आई तो हमें हमारी शादी और कर्तव्य के बीच किसी एक को चुनना था. हम दोनों ने मिलकर कर्तव्य को चुना और शादी बाद में करने का फैसला लिया. लेकिन आज घरवालों और दोस्तों ने अच्छे मुहूर्त पर मंदिर में शादी करने का सुझाव दिया और हमने आज मंदिर में शादी कर ली.”

शादी में ऑनलाइन शामिल हुए रिश्तेदार
पिछले करीब ढाई महीनों से दोनों दिन रात मुंबई के बालासाहेब ठाकरे ट्रॉमा सेंटर में कोरोना  संक्रमित मरीज़ों का इलाज कर रहे हैं और शादी के बाद भी तुरंत अस्पताल में मरीज़ों की ड्यूटी करने पहुंचेंगे. इस शादी समारोह में वर-वधू के माता-पिता, मामा-मामी, चाचा चाची सभी उपस्थित थे. फर्क सिर्फ़ इतना था कि सभी लोग शादी में ऑनलाइन शामिल हुए.

डॉ संदीप पुराणे ने बताया,“मां और पिताजी, परिवार के अन्य सदस्य शादी में शामिल नहीं हो सके इस बात का दुख है लेकिन विश्वास है कि कोरोना से जंग जीतने के बाद बड़ी धूमधाम से परिवार के सभी सदस्यों और दोस्तों के साथ मिलकर शादी समारोह का आयोजन करेंगे.”

शादी में तरह-तरह के समारोह होते हैं जैसे – मेहंदी, संगीत, हल्दी की रस्म. इनकी शादी में ये होना मुश्किल था और इस कमी का दुख भी इन्हें था लेकिन इसकी कमी डॉ संदीप और डॉ. हिमांगी के साथी डॉक्टरों ने पूरी कर दी. शादी से एक रात पहले अस्पताल के ही हॉस्टल में इन दोनों के लिए मेहंदी, हल्दी रस्म और संगीत समारोह भी किया.

hemangi

डॉ. संदीप और डॉ. हिमांगी की साथी डॉक्टरों ने एबीपी न्यूज़ से कहा, “हमने कल रात इन्हें ये सरप्राइज़ दिया आज इनकी ड्यूटी है लेकिन बाद के लिए कुछ और सरप्राइज़ हमने इनके लिए रखे हैं ताकि इन्हें अपने परिवार और शादी के रस्मों की कमी ना खलें.”

डॉ हिमांगी के चाचा ने किया कन्यादान
लेकिन शादी की होने वाली कुछ रस्मों में परिवार के लोगों का होना बहुत जरुरी होता है. इसीलिए डॉ हिमांगी का कन्यादान करने पहुंचे उनके चाचा खुद एक कोविड वॉरियर है. डॉ. हिमांगी के चाचा ठाणे क्राइम ब्रांच के डीसीपी हैं, जो ड्यूटी पूरी करके कन्यादान करने पहुंचे. डीसीपी दीपक देवराज ने बताया, “बच्चों पर हम सभी को अभिमान है. उनका ये बलिदान हम सबको हौंसला देता है कि हमें कर्तव्य को सबसे आगे रखना हैं. जैसे ही परिस्थिति में सुधार आता है हम इन दोनों का धूमधाम से विवाह कराएंगे.’’ शादी के बाद लोग हनीमून पर जाते हैं लेकिन ये कोविड योद्धा शादी के दिन ही अस्पताल में ड्यूटी करेंगे.

कोरोना वायरस: दिल्ली के LG ने केजरीवाल सरकार से कहा, बिस्तरों और फीस के बारे में जानकारी के लिए LED बोर्ड लगाएं 


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here