Home News Examinations Will No Longer Be Held In Colleges Of Madhya Pradesh Ann

Examinations Will No Longer Be Held In Colleges Of Madhya Pradesh Ann

4
0

कोरोना के कारण इस साल मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि स्नातक प्रथम एवं द्वितीय वर्ष और स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर की परीक्षा नहीं ली जांएगी. परीक्षार्थियों को उनके बीते साल/सेमेस्टर के अंकों के आधार पर अगली कक्षा/सेमेस्टर में प्रवेश दिया जाएगा.

भोपालः कोरोना संकट के मद्देनजर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के उच्च शिक्षा एवं तकनीकी शिक्षा महाविद्यालयीन विद्यार्थियों के हित में बड़ा निर्णय लिया है. अब स्नातक प्रथम एवं द्वितीय वर्ष और स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर के परीक्षार्थियों को, बिना परीक्षा दिए, उनके बीते साल/सेमेस्टर के अंकों/आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर अगली कक्षा/सेमेस्टर में प्रवेश दिया जाएगा.

इसके साथ ही स्नातक अंतिम वर्ष एवं स्नातकोत्तर चतुर्थ सेमेस्टर के परीक्षार्थियों के पूर्व वर्षों/ सेमेस्टर्स में से सर्वाधिक अंक प्राप्त परीक्षा परिणाम को प्राप्तांक मानकर अंतिम वर्ष/सेमेस्टर के परीक्षा परिणाम घोषित किये जाएंगे.

शालाएं खोलने के संबंध में 31 जुलाई को समीक्षा उपरांत निर्णय

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में शालाओं को खोलने के संबंध में 31 जुलाई को समीक्षा कर निर्णय लिया जाएगा. 12वीं कक्षा के ऐसे विद्यार्थी जो किसी कारणवश 12वीं की परीक्षा नहीं दे पाए हैं उनके लिए एक बार फिर परीक्षा आयोजित होगी. प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा ने बताया कि अगले हफ्ते से बच्चों को किताबों का वितरण कराने की व्यवस्था की जा रही है.

10वीं एवं 12वीं के परिणाम जुलाई में अपेक्षित

प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा ने बताया कि प्रदेश में 10वीं एवं 12वीं बोर्ड की परीक्षाएं सम्पन्न हो चुकी है, 10वीं के परिणाम जुलाई के प्रथम सप्ताह में तथा 12वीं के परिणाम जुलाई के तृतीय सप्ताह में अपेक्षित है. प्रदेश में लॉकडाउन की अवधि में रेडियो, टी.वी. एवं मोबाइल के माध्यम से शैक्षणिक गतिविधियां संचालित हैं.

यह भी पढ़ेंः

राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर साधा निशाना, कहा- टकराव के बावजूद आखिर चीन क्यों कर रहा है मोदी की तारीफ?

आर्थिक मंदी के बाद कोरोना और लॉकडाउन की मार, मुश्किल में झारखंड की स्टील इंडस्ट्री


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here