Home News Surya Grahan 2020: solar eclipse 2020 june dos and dont during surya...

Surya Grahan 2020: solar eclipse 2020 june dos and dont during surya grahan

1
0

Surya Grahan 2020: सूर्य ग्रहण के दौरान इन बातों का रखें ध्यान, भूलकर भी न करें ये काम

सूर्य ग्रहण 2020: ग्रहण के दौरान इन बातों का रखें ध्यान

नई दिल्ली:

21 जून को साल 2020 का पहला सूर्य ग्रहण (Surya Grahan 2020) है. भारतीय समयानुसार यह ग्रहण सुबह 9 बजकर 15 मिनट पर शुरू होगा. ग्रहण दोपहर 12 बजकर 10 मिनट पर अपने सबसे अधिक प्रभाव में होगा. इसके बाद यह 3 बजकर 4 मिनट पर समाप्त हो जाएगा. आपको बता दें, इस साल लगने वाला यह सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse 2020) बाकि ग्रहणों से काफी अलग है और इसके बाद यह 2039 में ही देखने को मिलेगा. दरअसल, 21 जून को सबसे बड़ा दिन होता है. इस दिन पृथ्वी, सूर्य की परिक्रमा (Summer Solstice Solar Eclipse) करते हुए, सूर्य की ओर अपने अधिकतम झुकाव पर पहुंच जाती है. 

यह भी पढ़ें

सूर्य ग्रहण का समय (Surya Grahan Timing)

भारतीय मानक समय के मुताबिक आंशिक सूर्य ग्रहण सुबह 9 बजकर 15 मिनट पर आरंभ होगा, जबकि पूर्ण सूर्य ग्रहण की अवस्था सुबह 10 बजकर 17 मिनट पर शुरू होगी. दोपहर 12 बजकर 10 मिनट पर सूर्य ग्रहण अपने सबसे अधिक प्रभाव में होगा, इसके बाद इसकी आंशिक अवस्था दोपहर को 3 बजकर 4 मिनट पर समाप्त होगी. 

कहां-कहां दिखाई देगा सूर्य ग्रहण 

भारत के देहरादून, सिरसा और टिहरी आदि शहरों में पूर्ण सूर्य ग्रहण दिखाई देगा. वहीं देश के अन्य हिस्सों में आंशिक सूर्य ग्रहण दिखाई देगा. 

सूर्य ग्रहण के वक्त क्या करें और क्या करने से बचें (Do’s And Don’t to Follow During Grahan)

1. ग्रहण काल में भूलकर भी खान-पान, शोर मचाना या किसी भी तरह का शुभ कार्य जैसे कि पूजा-पाठ आदि नहीं करना चाहिए.

2. हालांकि, आप चाहें तो इस दौरान गुरु मंत्र का जाप, किसी भी मंत्र की सिद्धी, रामायण, सुंदरकांड का पाठ आदि कर सकते हैं.

3. सूतक लगने के बाद गर्भवती महिलाओं को घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए. ग्रहण काल में सूर्य की पराबैंगनी किरणे निकलती हैं. यह किरणें गर्भस्थ शिशु के लिए हानिकारक होती हैं. 

4. ग्रहण खत्म हो जाने के बाद पविक्ष नदियों में स्नान कर के शुद्धिकरण कर लेना चाहिए.

5. सूतक लगने से पहले घर में मौजूद खाने की सभी चीजों में तुलसी के पत्ते या फिर घांस डाल देनी चाहिए.

6. साथ ही घर के मंदिर को सूतक लगने से पहले ही पर्द से ढक दें या फिर उसके कपाट बंद कर दें.

7. माना जाता है कि ग्रहण खत्म होने के बाद मन की शुद्धी के लिए दान-पुण्य करना चाहिए.


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here