Home News University Exams Should Be Postponed, Online Tests Discriminatory, Says Congress Leader Kapil...

University Exams Should Be Postponed, Online Tests Discriminatory, Says Congress Leader Kapil Sibal | कपिल सिब्बल बोले

3
0

नई दिल्ली: पूर्व मानव संसाधन विकास मंत्री कपिल सिब्बल ने कहा कि विश्वविद्यालयों को कोविड-19 महामारी के दौरान परीक्षाएं आयोजित नहीं करनी चाहिए और ऑनलाइन परीक्षा लेना भी सही नहीं है क्योंकि यह गरीब छात्रों के साथ ‘‘भेदभाव’’ जैसा है.

छात्रों पर बेवजह का बोझ पड़ेगा- कपिल सिब्बल

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा कि कोरोना वायरस के कारण ठीक प्रकार से कक्षाएं चलाए बगैर स्कूलों का 2020-21 शिक्षण सत्र लगभग आधा समाप्त हो चुका है, इसलिए अगले साल भी कक्षा 10वीं की बोर्ड परीक्षाएं आयोजित नहीं की जानी चाहिए क्योंकि इससे छात्रों पर बेवजह का बोझ पड़ेगा.

हमें नहीं पता कि यह महामारी कब तक चलेगी- कपिल सिब्बल

सिब्बल ने कहा, ‘‘आधा साल गुजर चुका है और हमें नहीं पता कि यह महामारी कब तक चलेगी. इस साल और अगले साल कक्षा 10वीं की बोर्ड परीक्षाओं की आवश्यकता नहीं है और उसके बाद वे इस नीति पर दोबारा गौर कर सकते हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘ भगवान का शुक्र है कि उन्होंने कुछ समझदारी भरे सुझावों को सुना और बोर्ड परीक्षाओं को रद्द कर दिया. उस प्रभाव की कल्पना कीजिए जो खास तौर पर उन गरीब छात्रों पर पड़ता जिनके पास ऑनलाइन सुविधा नहीं है.’’

सिब्बल का बयान ऐसे वक्त में आया है जब संक्रमण के कारण कक्षा 10वीं और 12वीं की बाकी बची सीबीएसई और आईसीएसई की परीक्षाओं को रद्द कर दिया गया है.

यह भी पढ़ें-

राहुल गांधी के ‘सरेंडर मोदी’ वाले ट्वीट पर बोले अमित शाह- 1962 से आजतक दो-दो हाथ हो जाएं

‘मन की बात’ पर राहुल गांधी का तंज, पूछा- कब होगी राष्ट्र की रक्षा और सुरक्षा की बात?


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here