Home News Akhilesh Yadav Said Implement Four Day Work Formula In Uttar Pradesh |...

Akhilesh Yadav Said Implement Four Day Work Formula In Uttar Pradesh | अखिलेश यादव की मांग

3
0

लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से सप्ताहा के अंत शनिवार और रविवार को पूरे प्रदेश में लॉकडाउन लागू करने के फैसले के बाद समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कोरोना संक्रमण के प्रसार को देखते हुए हफ्ते में चार कार्य दिवस लागू करने की वकालत की है. अखिलेश ने रविवार को कहा कि कोरोना संक्रमण के प्रसार को देखते हुए सप्ताह के अंत में लॉकडाउन लागू करने की बजाय सरकार को सप्ताह में चार दिन काम की व्यवस्था लागू करनी चाहिए और यह लंबे समय तक रहनी चाहिए.

अखिलेश यादव ने कहा कि कार्य दिवस सोमवार से गुरुवार तक होने चाहिए और साप्ताहिक बंदी शुक्रवार, शनिवार और रविवार को होनी चाहिए. कोरोना वायरस को देखते हुए अतिरिक्त प्रतिबंध भी लगाए जाने चाहिए. इससे वायरस के प्रसार को रोकने में ही नहीं बल्कि लोगों को घर में परिवार के साथ रहने और अपने स्वास्थ्य पर ध्यान देने में भी मदद मिलेगी. उन्होंने कहा कि सरकार को नई कार्य संस्कृति विकसित करनी चाहिए ताकि कुछ भी प्रभावित न हो. आपात सेवाएं हर दिन चौबीसों घंटे उपलब्ध रहनी चाहिए.

बता दें कि, उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने कोरोना वायरस के संक्रमण पर प्रभावी रोकथाम के लिए सप्ताह के अंतिम दो दिन यानी हर शनिवार और रविवार को लॉकडाउन का फैसला किया है. मुख्यमंत्री योगी ने रविवार को कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए अब सभी बाजार सोमवार से शुक्रवार तक खुलेंगे. शनिवार और रविवार को साप्ताहिक बंदी रहेगी.

yogi

अपर मुख्य सचिव (गृह एवं सूचना) अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि कोरोना संक्रमण का प्रसार रोकने के मकसद से सप्ताह के अंत में लॉकडाउन लागू किया जाएगा. यह आगामी सप्ताह शनिवार और रविवार से लागू होगा. अवस्थी ने बताया कि सप्ताह के अंत में बंदी वाले दिनों में बाजार और कार्यालय बंद रहेंगे हालांकि बैंक खुले रहेंगे. उन्होंने बताया कि लॉकडाउन प्रदेश के शहरी और ग्रामीण दोनों ही क्षेत्रों में लागू किया जाएगा.

यह भी पढ़ें:

एबीपी गंगा की खबर पर लगी मुहर, यूपी में अब हफ्ते में दो दिन होगा लॉकडाउन, शनिवार-इतवार रहेगा सब बंद

Vikas Dubey Encounter एसआईटी के इन सवालों से खुलेगा विकास दुबे और अफसरों की मिलीभगत का कच्चा-चिट्ठा


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here