Home News Chairman of Railway Board Says Railway tickets will also be equipped with...

Chairman of Railway Board Says Railway tickets will also be equipped with QR code system – रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ने कहा – रेलवे टिकट भी होंगे क्यू आर कोड प्रणाली से युक्त, बिना संपर्क के हो सकेगी जांच

6
0

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ने कहा - रेलवे टिकट भी होंगे क्यू आर कोड प्रणाली से युक्त, बिना संपर्क के हो सकेगी जांच

रेलवे टिकट भी होंगे अब क्यू आर कोड प्रणाली से युक्त (प्रतीकात्मक तस्वीर)

हवाई अड्डों की भांति रेलवे भी क्यू आर कोड वाले संपर्क रहित टिकट देने की योजना बना रहा है जिन्हें स्टेशन और ट्रेनों पर मोबाइल फोन से स्कैन किया जा सकेगा. रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी. रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष वी के यादव ने कहा कि वर्तमान में ट्रेन के 85 प्रतिशत टिकट ऑनलाइन बुक होते हैं और काउंटर से टिकट खरीदने वालों के लिए भी क्यू आर कोड की व्यवस्था की जाएगी. यादव ने कहा, “हमने क्यू आर कोड प्रणाली की शुरुआत की है जो टिकट पर दिए जाएंगे.

यह भी पढ़ें

ऑनलाइन खरीदने वालों को टिकट पर कोड दिया जाएगा. विंडो टिकट पर भी जब किसी को कागज वाला टिकट दिया जाएगा तब उसके मोबाइल पर एक संदेश भेजा जाएगा जिसमें क्यू आर कोड का लिंक होगा. लिंक खोलने पर कोड दिखेगा.” उन्होंने कहा, “इसके बाद स्टेशन या ट्रेन पर टीटीई के पास फोन या उपकरण होगा जिससे यात्री के टिकट का क्यू आर कोड स्कैन कर लिया जाएगा. इस प्रकार टिकट जांचने की प्रक्रिया पूरी तरह से संपर्क रहित होगी.”

प्राइवेट ट्रेन पर पहली बैठक में बॉम्बार्डियर , जीएमआर, राइट्स, भेल सहित 16 कंपनियां हुईं शामिल

यादव ने कहा कि अभी पूरी तरह कागज रहित होने की रेलवे की योजना नहीं है लेकिन आरक्षित, अनारक्षित और प्लेटफार्म टिकट की ऑनलाइन बुकिंग शुरू कर कागज का इस्तेमाल बहुत हद तक कम किया जा सकेगा. उन्होंने कहा कि कोलकाता मेट्रो की ऑनलाइन रिचार्ज सुविधा शुरू कर दी गई है. हवाई अड्डे की भांति सभी यात्रियों के लिए स्टेशन पर प्रवेश करते ही संपर्क रहित टिकट की जांच करने की प्रक्रिया प्रयागराज जंक्शन स्टेशन पर शुरू की गई है.


यादव ने कहा कि आईआरसीटीसी की वेबसाइट का पूरी तरह नवीनीकरण किया जाएगा और प्रक्रिया को सरल, सुविधाजनक बनाया जाएगा और होटल और भोजन की बुकिंग के साथ जोड़ा जाएगा. उन्होंने कहा कि रेलवे ने भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (इसरो) के साथ सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं जिसके तहत ट्रेनों की सैटेलाइट द्वारा निगरानी की जा सकेगी.

VIDEO:अब निजी कंपनियां चला सकेंगी पैसेंजर ट्रेनें

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here