Home News Maharashtra Coronavirus 233 Deaths And 7975 New Cases

Maharashtra Coronavirus 233 Deaths And 7975 New Cases

2
0

मुंबई: देश में कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र में संक्रमण के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. पिछले 24 घंटे में राज्य में कोरोना वायरस के 7975 नए केस सामने आए हैं और 233 लोगों की मौत हुई है. नए मामलों के सामने आने के साथ ही राज्य में संक्रमित केस की संख्या बढ़कर 2 लाख 75 हजार 640 हो गई है.

राज्य के स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 3606 मरीजों को इलाज के बाद ठीक हो जाने के बाद डिस्चार्ज किया गया. बुधवार तक राज्य में 1 लाख 52 हजार 613 लोग ठीक हो चुके हैं. स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि महाराष्ट्र में रिकवरी रेट 55.37 फीसदी है. राज्य में अब तक वायरस की वजह से 10 हजार 928 लोगों की मौत हो चुकी है.

राजधानी मुंबई में कोरोना संक्रमण के 1390 नए केस सामने आए हैं और 62 लोगों की मौत हुई है. अब तक शहर में कोरोना वायरस के 96253 केस दर्ज किए जा चुके हैं. इसमें से 67830 मरीज डिस्चार्ज किए जा चुके हैं. मुंबई में कोरोना से मौत का आंकड़ा बढ़कर 5464 हो गया है और मौजूदा समय में 22959 एक्टिव केस हैं.

उधर मुंबई की झुग्गी-बस्ती इलाके धारावी में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 23 नए मामले सामने आने के साथ ही संक्रमितों की कुल संख्या 2415 हो गई. बृह्न्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, धारावी में पिछले करीब एक महीने के बाद एक ही दिन में 20 से अधिक मामले अब सामने आए हैं. 18 जून के बाद से धारावी में एक दिन में संक्रमण के 20 से कम ही मामले सामने आ रहे थे. सात जुलाई को तो केवल एकल संख्या में ही मामले सामने आए थे.

हालांकि, बीएमसी ने धारावी से संबंधित यदि कोई मौत का मामला है तो इस बारे में पिछले एक महीने से जानकारी साझा नहीं की है. अधिकारी ने कहा कि धारावी में केवल 99 मरीजों का इलाज चल रहा है. पिछले सप्ताह विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी कभी कोरोना वायरस का हॉटस्पॉट बनकर उभरी इस झुग्गी-बस्ती क्षेत्र में वायरस के प्रसार की रोकथाम को लेकर उठाए गए कदमों की सराहना की थी.

इसके साथ ही बीएमसी ने बताया कि मौजूदा समय में 1053 वेंटिलेटर एक्टिव कंडीशन में हैं और 125 इस्तेमाल में नहीं है क्योंकि मुंबई में उतने मरीज नहीं है जिन्हें वेंटिलेर पर रखा जाए. इसलिए ये इंस्टॉल तो किए गए हैं लेकिन इस्तेमाल में नहीं हैं. इसका ये मतलब नहीं हुआ कि वेंटीलेटर धूल खाने के लिए पड़े हैं, ये इस बात का संकेत है कि मुंबई में कोरोना वायरस की स्थिति बेहतर होती जा रही है. बीएमसी ने कहा कि मुंबई में रिकवरी रेट सत्तर फीसदी है और ये बेहतर संकेत हैं.

वहीं कोरोना के संक्रमण को देखते हुए पुणे में लगाए गए लॉकडाउन का दूसरा चरण 18 जुलाई से 23 जुलाई तक जारी रहेगा. इस दौरान मेडिकल स्टोर्स, डेयरी, हॉस्पिटल और दूसरी जरूरी सेवाएं खुली रहेंगी.

गोवा में इस सप्ताह के आखिरी तीन दिन संपूर्ण लॉकडाउन, 10 अगस्त तक लगाया गया ‘जनता कर्फ्यू’


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here