Home News Rajasthan : Ashok Gehlots close ones got cash of 12 crores, ornaments...

Rajasthan : Ashok Gehlots close ones got cash of 12 crores, ornaments worth 1.70 crores in IT department Raid – अशोक गहलोत के करीबियों के यहां आयकर विभाग की छापेमारी में मिले 12 करोड़ के कैश, 1.70 करोड़ के गहने – सूत्र

0
0

नई दिल्ली :

आयकर विभाग ने राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत के करीबियों के यहां कुछ दिन पहले जो छापेमारी की थी उसमें करीब 12 करोड़ कैश मिला है और  1 करोड़ 70 लाख के गहने मिले हैं.  आपको बता दें कि राजीव अरोड़ा ,सुनील कोठरी और रतनकांत शर्मा के यहां ये छापेमारी हुई थी.  तीनों को आईटी एक्ट के तहत नोटिस जारी किया गया है और इनसे अगले हफ्ते पूछताछ की जाएगी. आपको बता दें कि यह छापेमारी उस दिन हुई थी जिस दिन राजस्थान की राजनीति में सीएम अशोक गहलोत और उस दिन तक डिप्टी सीएम की कुर्सी पर काबिज सचिन पायलट के बीच जंग चरम पर पहुंच रही थी.  13 जुलाई को आयकर विभाग राजस्थान की एक पनबिजली अवसंरचना कंपनी और कुछ अन्य कारोबारी समूहों के खिलाफ टैक्स चोरी मामले में दिल्ली और जयपुर समेत चार शहरों में छापेमारी की थी. हालांकि आधिकारिक सूत्रों ने यह पुष्टि नहीं की कि क्या यह छापे राज्य में कांग्रेस नेतृत्व से जुड़े हुए हैं. वहीं, दिल्ली और राजस्थान में पार्टी सूत्रों ने छापों के समय को लेकर सवाल उठाए और इस कार्रवाई की निंदा की.  राजस्थान में कांग्रेस सूत्रों ने कहा कि पार्टी नेता राजीव अरोड़ा और धर्मेंद्र राठौर से जुड़े परिसरों पर छापेमारी की गई है.

यह भी पढ़ें

आयकर विभाग के दल को जयपुर में आम्रपाली ज्वेलर्स के शोरुम में जाते देखा गया, बताया जाता है कि इसके मालिक राजीव अरोड़ा हैं.  अरोड़ा राजस्थान कांग्रेस के उपाध्यक्ष हैं वहीं राठौर राज्य बीज निगम के पूर्व अध्यक्ष हैं. 

अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि दिल्ली, जयपुर, मुंबई और कोटा में छापेमारी की कार्रवाई तड़के शुरू की गई और इस दौरान प्रवर्तकों और मालिकों के परिसरों की तलाशी ली गई. उन्होंने कहा कि इस कार्रवाई में पुलिस अधिकारियों के अलावा कर विभाग के कम से कम 80 कर्मचारी थे.

उन्होंने बताया कि विभाग ने यह कार्रवाई नकदी के बड़े लेन-देन से जुड़ी जानकारी मिलने और पनबिजली समूह द्वारा लाभ को कम कर दिखाए जाने की सूचना के बाद की। जिस कारोबारी समूह के परिसरों पर छापेमारी की कार्रवाई की जा रही है, वह हाइड्रो मैकेनिकल उपकरणों से जुड़ा काम करता है और उसे 2018 में राजस्थान में बांध निर्माण के संबंध में ठेका दिया गया था. 

विभाग ने एक लग्जरी होटल में भी छापेमारी की जिसका शेयरधारक आर के शर्मा नाम का व्यक्ति है.  मॉरीशस से कथित तौर पर भेजी गई 96 करोड़ रुपये की रकम में विदेशी मुद्रा कानून के उल्लंघन के सिलसिले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) भी शर्मा की जांच कर रहा है.  उन्होंने कहा कि कुछ दिन पहले ईडी ने भी कुछ लोगों से पूछताछ की थी.  (इनपुट भाषा से भी)


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here