Home News Sonu Punjabban, who runs the biggest racket of jismfaroshi in Delhi, convicted...

Sonu Punjabban, who runs the biggest racket of jismfaroshi in Delhi, convicted for the first time in a case – दिल्ली में जिस्मफरोशी का सबसे बड़ा रैकेट चलाने वाली सोनू पंजाबन पहली बार किसी केस में दोषी करार

2
0

दिल्ली में जिस्मफरोशी का सबसे बड़ा रैकेट चलाने वाली सोनू पंजाबन पहली बार किसी केस में दोषी करार

देह व्यापार करवाने के मामले में सोनू पंजाबन दोषी करार

नई दिल्ली:

कुछ साल पहले तक दिल्ली में जिस्मफरोशी का सबसे बड़ा रैकेट चलाने वाली सोनू पंजाबन उर्फ गीता अरोड़ा को पहली बार किसी केस में दोषी पाया गया है. एक बारह साल की बच्ची के अपरहण ,रेप और उसे जबरन जिस्मफरोशी के धंधे में धकेलने के मामले में उसे कोर्ट दोषी माना है. दरअसल साल 2009 में दिल्ली के हर्ष विहार इलाके से से एक बारह साल की बच्ची का अपरहण हुआ और फिर 5 साल बाद 2014 में वो बच्ची नजफगढ़ थाने पहुंची और उसने पूरी आपबीती बताई. बच्ची ने बताया कि साल 2006 में जब वो 6वीं क्लास में पढ़ रही थी तब उसकी दोस्ती संदीप बेदवाल नाम के शख्स से हो गई.

यह भी पढ़ें

2009 में संदीप उससे शादी करने के बहाने लक्ष्मी नगर ले गया और वहां उसके साथ रेप किया, फिर उस बच्ची को अलग अलग लोगों को 10 बार बेचा गया. बीच में बच्ची सोनू पंजाबन के पास भी रही जिसने उसे जिस्मफ़रोशी के धंधे में जबरन धकेल दिया. इस दौरान बच्ची को नशे के इंजेक्शन दिए गए और न जाने कितने लोगों ने उसके साथ रेप किया. बच्ची को दिल्ली के अलावा हरियाण और पंजाब भी भेजा गया. आखिर में एक सतपाल नाम के शख्स ने बच्ची से जबरन शादी कर ली लेकिन बच्ची किसी तरह उसके चंगुल से छूटकर नजफगढ़ थाने पहुंच गयी. बाद में इस मामले की जांच क्राइम ब्रांच के डीसीपी भीष्म सिंह की टीम ने की और सोनू पंजाबन और संदीप को गिरफ्तार किया गया. अब कोर्ट ने दोनों को रेप और अन्य संगीन धाराओं में दोषी करार दिया है.


सोनू पंजाबन का कुछ साल पहले तक दिल्ली में जिस्मफरोशी की दुनिया में सबसे बड़ा नाम था. उसके रैकेट में दर्जनों दलाल और लड़कियां थी ,उस पर हत्या से लेकर जिस्मफरोशी के दर्जनों केस दर्ज हैं. दिल्ली पुलिस ने उस पर मकोका भी लगाया जिसमें वो करीब 1 साल जेल में रही, लेकिन फिर बाहर आ गयी,फिर पुलिस ने उसे 12 साल की बच्ची के मामले में संदीप के साथ गिरफ्तार किया. इस मामले में 4 और आरोपी गिरफ्तार हुए जिनके खिलाफ कोर्ट में सुनवाई जारी है,जबकि 4 आरोपियों की तलाश अब भी चल रही है. वहीं इसी केस में सोनू पंजाबन और संदीप को कोर्ट ने दोषी करार दे दिया ये पहला मौका है जब उसे किसी केस में दोषी पाया गया है.वहीं पीड़ित लड़की को पुलिस ने सुरक्षा दी हुई है और पुलिस उसकी आर्थिक मदद भी करती है. 

VIDEO: दिल्ली: 53 लड़कियों के रेस्क्यू को लेकर महिला आयोग और पुलिस आमने-सामने


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here