Home News The Most Talked About Actor Amitabh Bachchan, Who Made Him The Emperor...

The Most Talked About Actor Amitabh Bachchan, Who Made Him The Emperor Of Bollywood

6
0

नई दिल्लीः बॉलीवुड में अमिताभ बच्चन एक ऐसी हस्ती हैं, जिन्होंने कॉमेडी से लेकर हॉरर तक सभी फिल्मों में अभिनय किया है. अमिताभ ने बॉक्स ऑफिस पर लगभग सभी संभव शैलियों में अपने किरदार निभाए हैं. सिनेमा जगत में जितना उनके किरदार को तारीफ मिली है, उतनी ही सुर्खियां उनके डायलॉग ने भी बटोरी है. आज भी उनके कई मशहूर डायलॉग लोगों की जुबान पर रटे हुए हैं. आइए एक नजर डालते हैं उनके सबसे लोकप्रिय वन लाइनर्स डायलॉग पर.

फिल्म शहंशाह

फिल्म शहंशाह में अमिताभ के एक डायलॉग ने उन्हें फिल्म जगत का शहंशाह बना दिया था. उनकी इस फिल्म का डायलॉग ‘रिश्ते में तो हम तुम्हारे बाप लगते हैं, नाम है शहंशाह’ आज भी उनके फैंस की जुबान पर सबसे पहले आने वाले डायलॉग में से एक है.

फिल्म शोले

अमिताभ बच्चन को फिल्म शोले में उनके अभिनय के लिए काफी सराहा गया था. इस फिल्म में उनके कुछ डायलॉग काफी चर्चा में में रहे थे. अभिनेता धर्मेंद्र के लिए बोला गया डायलॉग ‘घड़ी-घड़ी ड्रामा करता है, साला.’ और अभिनेत्री हेमा मालिनी के लिए कहा गया ‘तुम्हारा नाम क्या है, बसंती?’ ने काफी सुर्खियां बटोरी थी.

फिल्म दीवार

अमिताभ के फिल्म ‘दिवार’ में किए गए किरदार लाखों लोगों के दिल में अपनी जगह बनाई थी. इस फिल्म का एक डायलॉग जो उन्होंने मंदिर में भगवान के सामने बोला था ‘आज ख़ुश तो बहुत होगे तुम. देखो जो आज तक तुम्हारे मन्दिर की सीढियां नहीं चढा, जिसने आज तक तुम्हारे सामने सर नहीं झुकाया…जिसने आज तक कभी तुम्हारे सामने हाथ नहीं जोड़े …वो आज तुम्हारे सामने हाथ फैलाये खड़ा है’ काफी चर्चा में रहा था.

फिल्म दीवार में अमिताभ का डायलॉग ‘जाओ पहले उस आदमी का साइन लेकर आओ, जिसने मेरे बाप को चोर कहा था. जाओ, पहले उस आदमी का साइन लेकर आओ जिसने मेरी मां को गाली देकर नौकरी से निकाल दिया था. पहले उस आदमी का साइन लेकर आओ जिसने मेरे हाथ पर ये लिख दिया. उसके बाद… मेरे भाई तुम जहां कहोगे वहां साइन कर दूंगा.’

फिल्म दिवार का एक और डायलॉग आज भी लोगों की जुबान पर है जिसमें अमिताभ ने कहा था ‘मैं आज भी फेंके हुए पैसे नहीं उठाता.’

फिल्म अग्निपथ

फिल्म अग्निपथ से अमिताभ को सिनेमा जगत में नई ऊचाइयां मिली थी. इस फिल्म में बोला गया ‘पूरा नाम विजय दीनानाथ चौहान, बाप का नाम दीनानाथ चौहान, मां का नाम सुभाषिनी चौहान, गांव मांडवा, उमर 36 साल.’ डायलॉग लोगों ने काफी पसंद किया था.

फिल्म डॉन

फिल्म डॉन अमिताभ की उन चुनिंदा फिल्मों में शामिल हैं जिसे लोग और उनके फैंस आज भी पसंद करते हैं. इस फिल्म के डायलॉग ‘डॉन को पकडना मुश्किल ही नहीं, नामुमकिन है’, ‘डॉन के दुश्मनों की सबसे बड़ी गलती ये है कि वे डॉन के दुश्मन हैं’ और ‘डॉन को तो ग्यारह मुल्कों की पुलिस ढूंढ रही है.’ काफी चर्चा में रहे हैं.

फिल्म नमक हलाल

फिल्म नमक हलाल से अमिताभ का डायलॉग ‘आई कैन टॉक इंग्लिश, आई कैन वॉक इंग्लिश, आई कैन लाफ इंग्लिश बिकॉज इंग्लिश इज ए वेरी फनी लैंग्वेज. भैरों बिकम्स बैरो बिकॉज देयर माइंड्स आर वेरी नैरो’ को आज भी उनके फैंस काफी पसंद करते हैं.

फिल्म पिंक

वहीं फिल्म पिंक में तापसी पन्नु को साथ समाज को बहुत ही सीरियस मैसेज देते हुए उनका डायलॉग ‘ना’ का मतलब ‘ना’ ही होता है, ‘ना’ सिर्फ एक शब्द नहीं बल्कि एक वाक्य होता है, ‘ना’ अपने आप में इतना मजबूत होता है कि इसे किसी भी व्याख्या, एक्सप्लेनेशन या तर्क-वितर्क की जरूरत नहीं होती ‘ना’ को जबरदस्ती ‘हां’ में नहीं बदला जा सकता, काफी चर्चा में रहा था.

इसे भी देखेंः
Covid-19 से संक्रमित हुए अमिताभ बच्चन के लिए क्यों बड़ा खतरा बन सकता है ये वायरस? जानें यहां

अमिताभ बच्चन के जल्द ठीक होने की दुआ मांग रहा है राजनीतिक जगत, इन नेताओं ने किया ट्वीट


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here